6.2 C
New York
Sunday, Mar 26, 2023
DesRag
राज्य

नहीं टूटने दूंगा मकान, यह मेरी जिम्मेदारी :दिग्विजय

आम इंसान महंगाई से परेशान है, दमन की राजनीति कर रही है भाजपा
ग्वालियर(देसराग)। मंहगाई, बेरोजगारी और कांग्रेस कार्यकर्ताओं का उत्पीड़न, संविदा पर भर्ती डॉक्टर और नर्सों को बिना कारण हटाए जाने के विरोध में जिला युवक कांग्रेस के बैनर तले जिलाध्यक्ष हेवरन सिंह कंषाना के नेतृत्व में सोमवार को फूलबाग चौराहा पर प्रदर्शन का आयोजन किया गया। इस प्रदर्शन व रैली में भी पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह, प्रदेश कांग्रेस कमेटी के कार्यकारी अध्यक्ष रामनिवास रावत, प्रदेश कांग्रेस कमेटी के कोषाध्यक्ष अशोक सिंह, जिला कांग्रेस कमेटी ग्वालियर अध्यक्ष डॉ.देवेश शर्मा शामिल हुए।
इससे पहले पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने अपने एक दिन के दौरे की शुरुआत मुरार के मीरा नगर से की। यहां मोहल्ले में शराब अहाता व दुकान खोलने का विरोध करने के बाद शराब माफिया और भू-माफिया ने सांठगांठ कर विरोध करने वाले जाटव परिवारों के मकान छीनने के लिए नगर निगम से नोटिस दिला दिया है। यह जमीन इन 15 परिवारों को पट्‌टे पर मिली थी।
पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह का कहना है कि किसी की मनमर्जी नहीं चलेगी। उन्होंने 15 परिवारों को भरोसा दिलाया है कि एक का भी मकान नहीं टूटेगा। यह मेरी जवाबदेही और जिम्मेदारी है। भाजपा पर वह बोले- भाजपा के राज में आम आदमी महंगाई से परेशान है। परेशान कौन नहीं है भाजपा के लोग और दलाल। यह मजे कर रहे हैं। इसके बाद वह प्रशांत गंगवाल के घर पहुंचे। उनसे मुलाकात की। फिर वह केन्द्रीय जेल पहुंचे यहां भारतीय राष्ट्रीय छात्र संगठन (एनएसयूआई) के जिलाध्यक्ष शिवराज यादव से मुलाकात की। ग्वालियर पहुंचे पूर्व मुख्यमंत्री व राज्यसभा सांसद दिग्विजय सिंह ने ग्वालियर में कई कार्यक्रम में भाग लिया है। वह मुरार के सिंहपुर रोड मीरा नगर पीतल कारखाना इलाके में पहुंचे। यहां सन 1983 में कांग्रेस के तत्कालीन मुख्यमंत्री ने 15 दलित परिवारों को पट्‌टे पर जमीन दी थी। अब इस मामले में नगर निगम ने तीन दिन में मकान तोड़ने का अल्टीमेटम देकर सभी परिवारों का नोटिस भेजे हैं। इतना ही नहीं मोहल्ले के लोगों ने एक शराब खोलने का विरोध किया था। जिसके बाद यह नोटिस आए है। दिग्विजय सिंह ने सभी परिवारों से बात कर उनको हिम्मत दिलाई है कि वह उनके साथ हैं और जब जरुरत होगी आकर लड़ेंगे।
एनएसयूआई जिलाध्यक्ष से जेल में की मुलाकात
मुरार में लोगों से बात करने के बाद पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह सेन्ट्रल जेल ग्वालियर पहुंचे। यहां उन्होंने एनएसयूआई के जिलाध्यक्ष शिवराज यादव से विशेष मुलाकात की है। उन्होंने जेल अधीक्षक के केबिन में एनएसयूआई के जिलाध्यक्ष व हत्या के प्रयास के आरोपी शिवराज यादव से बात की। उनकी इस मुलाकात पर सवाल खड़े हो रहे हैं कि वीआईपी के लिए जेल की मुलाकात के नियम को ताक पर रख दिया गया है। शिवराज एक पुतला दहन कर रहे थे तभी पुतला छीनते समय एक पुलिस सब इंस्पेक्टर झुलस गया था। जिसके बाद एनएसयूआई के जिलाध्यक्ष शिवराज सहित पांच पर हत्या के प्रयास का मामला दर्ज कर लिया गया था। यहां दिग्विजय सिंह ने कहा है कि भाजपा दमन की राजनीति कर रही है। दमन की राजनीति तो अंग्रेजों की नहीं चली थी, फिर यह तो भाजपा है। हम आंदोलन करेंगे। वो घटना सिर्फ एक दुर्घटना थी। जिसका गलत फायदा उठाया गया।

Related posts

समय रहते नहीं मिली एयर एंबुलेंस, कोबरा जांबाज को गंवानी पड़ीं अपनी टांगें

desrag

नौकरशाहों की कार्यप्रणाली पर नहीं ‘कंट्रोल’, कैसे साकार होगा सुशासन का सपना?

desrag

भाजपा ने दूसरी सीट के लिए सुमित्रा वाल्मीकि को उम्मीदवार बनाया

desrag

Leave a Comment