17.5 C
New York
Sunday, Sep 24, 2023
DesRag
राज्य

बिना हाथों के वसीम को बना दिया पत्थरबाज

भोपाल(देसराग)।खरगोन में दंगाइयों को “सबक” सिखाने के लिए शिवराज मामा के बुलडोजर ने कई घरों को तबाह कर दिया है। सरकार अपनी इस बहादुरी पर भले ही खुद अपनी पीठ ठोके लेकिन सच सामने आ रहा है। जेल में बंद एक शख्स को दंगों का आरोपी बनाए जाने के बाद शिवराज सरकार ने एक ऐसे व्यक्ति को पथराव का आरोपी बना दिया जिसके दोनों हाथ ही नहीं है।
वसीम शेख साल 2005 में अपने दोनों हाथ गवा बैठे। बिजली का करंट लगने से उनके दोनों हाथों को काटना पड़ गया। इसके बाद से ही वह अपने परिवार पर निर्भर हैं, घर में दो छोटे बच्चे हैं और खाने पीने के लिए परिवार के लोगों के भरोसे हैं। खरगोन में हिंसक घटनाओं के बाद उनके और उनके परिवार के रोजगार का जरिया बनी एक गुमटी को बुलडोजर तहस-नहस कर दिया। यही नहीं उन्हें पत्थरबाज भी करार दे दिया गया। एक न्यूज़ पोर्टल के पत्रकार ने वसीम शेख और उनके परिवार की दुख भरी कहानी को उजागर किया है।


ट्विटर पर उनका इंटरव्यू सामने आया है जिसमें वह अपनी आपबीती सुनाते हैं। रोजगार छिन गया और दंगाई होने का कलंक भी उनके माथे पर आ गया। यह अलग बात है कि मध्य प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा मीडिया से बातचीत में पत्रकारों से उल्टे यही सवाल करते हैं कि उन्हें “सच” क्यों नहीं दिखाई पड़ रहा है। विपक्ष का आरोप है कि स्थानीय प्रशासन विपक्ष को खरगोन जाने से रोक रहा है।

Related posts

सड़क पर रार : कृषि और पंचायत महकमे आमने-सामने

desrag

चालीस दिनों से चल रहा धरना, दो आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं की मौत

desrag

मध्य प्रदेश में “पेंशन से निहाल” हो रहे ‘माननीय’

desrag

Leave a Comment