6.2 C
New York
Sunday, Mar 26, 2023
DesRag
राज्य

कांग्रेस में टिकटों पर मंथन, जल्द आएगी उम्मीदवारों की पहली सूची

भोपाल(देसराग)। महापौर और नगरीय निकाय चुनावों को लेकर पीसीसी चीफ कमलनाथ मशक्कत में जुटे हैं। कांग्रेस ने आधे नगर निगमों के लिए महापौर पद के उम्मीदवारों के नामों को फाइनल कर लिए हैं, जबकि बाकी पर मंथन चल रहा है। माना जा रहा है कि शुक्रवार रात तक उम्मीदवारों की पहली सूची जारी कर दी जाएगी।

कमलनाथ ने कहा कि जो जिताऊ कैंडीडेट होंगे उन्हें ही मैदान में उतारा जाएगा। किसी नेता को नहीं, बल्कि संगठन का हित देखकर ही काम कर रहा हूं। उन्होंने कहा कि यदि टिकट वितरण में किसी के साथ अन्याय हुआ तो उस पर पुनर्विचार भी किया जाएगा।

कमलनाथ निवास पर मंथन
महापौर और नगरीय निकाय के लिए उम्मीदवारों के नामों को अंतिम रूप देने के लिए कमलनाथ निवास पर कांग्रेस विधायकों, जिला अध्यक्ष, जिला प्रभारियों की बैठक बुलाई गई। बैठक में कमलनाथ, राज्यसभा सांसद दिग्विजय सिंह सहित तमाम बड़े नेता मौजूद थे। बैठक में विधानसभा वार और जिलावार नगरीय निकायों के टिकटों को लेकर विचार विमर्श किया गया। वहीं महापौर पद के लिए करीब 9 नामों को फाइनल कर दिया गया है, बाकी पर मंथन किया जा रहा है। भोपाल से पूर्व महापौर और प्रदेश महिला कांग्रेस की अध्यक्ष विभा पटेल का नाम तय हो गया है। उन्होंने 1999 में महापौर का चुनाव लड़ा था और भाजपा की राजो मालवीय को हराकर महापौर बनी थीं। हालांकि 2008 में वे गोविंदपुरा विधानसभा सीट से चुनाव हार गई थी।
वहीं उज्जैन से तराना विधायक महेश परमार, सिंगरौली से अरविंद सिंह चंदेल, रीवा से अजय मिश्रा, इंदौर से विधायक संजय शुक्ला, सागर से पूर्व विधायक सुनील जैन की पत्नी निधि जैन, मुरैना से पूर्व सांसद बाबूलाल सोलंकी की बहू शारदा सोलंकी, जबलपुर से राज्यसभा सांसद विवेक तन्खा समर्थक जगत बहादुर सिंह अन्नू और बुरहानपुर से गौरी दिनेश शर्मा का नाम फाइनल माना जा रहा है।

ग्वालियर नगर निगम के लिए कांग्रेस ने यूं तो विधायक डाक्टर सतीश सिंह सिकरवार की पत्नी शोभा सिकरवार का नाम तय किया है, लेकिन ग्वालियर के कांग्रेस जिला अध्यक्ष डाक्टर देवेन्द्र शर्मा द्वारा अपनी पत्नी को उम्मीदवार बनाए जाने की बात कहते हुए इस्तीफा दे देने की धमकी देकर फिलहाल कमलनाथ को पशोपेश में डाल दिया है।

एक-दो दिन में जारी होगी सूची
कमलनाथ ने कहा कि उम्मीदवारों की सूची एक-दो दिन में जारी कर दी जाएगी। माना जा रहा है कि शुक्रवार को उम्मीदवारों की पहली सूची आ जाएगी। कमलनाथ ने साफ कर दिया है कि उनके लिए कोई नेता-विधायक नहीं, बल्कि पार्टी का संगठन महत्वपूर्ण है। मुझे सिर्फ संगठन का हित देखना है। नगरीय निकायों के टिकटों को लेकर उन्होंने कहा कि ऐसे विधायक जो खुद किसी वार्ड से चुनाव हारे हैं, वे खुद उस वार्ड के लिए उम्मीदवार को चुन रहे हैं। उन्होंने कहा कि ध्यान रखा जा रहा है कि विधायक को तकलीफ न हो, लेकिन संगठन का हित भी प्रभावित न हो।

Related posts

ऊर्जा मंत्री की सफाई, कीचड़ में फंसी गाड़ी मेरी नहीं थी

desrag

भोपाल वन विहार के 6 बाघों को उम्रकैद, क्या था इनका गुनाह?

desrag

झाबुआ में दबंगों ने महिला को निर्वस्त्र कर पीटने की घटना शर्मनाक : डॉ. गोविन्द सिंह

desrag

Leave a Comment